VIDEO : ‘ताजमहल’ के बंद तालों के पीछे दफन है कई राज,राज खुलने पर आएगा भूचाल !

ताजमहल को लेकर दुनिया भर में चर्चा की जाती रही है लेकिन क्या आप जानते हैं ताजमहल को लेकर उन दफन राजों को लेकर जो आज भी सबसे बड़े रहस्य बने हुए हैं ?

आखिर क्या है ताजमहल के दरवाजों का रहस्य,आखिर क्या छुपा है ताजमहल के अंदर लगे बंद तालों के पीछे ?जिस दिन ये ताले खुलेंगे बहुत से लोग सदमें में बेहोस ही हो जायेंगे लेकिन यही है बड़ा सवाल आखिर ये दिन आएगा कब ?

ताजमहल की सच्चाई के संबध में ताजमहल के कई तहखानों में कई रहस्य दफन हैं, लेकिन इस इतिहास और इन रहस्यों पर कोई और नही बल्कि भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण विभाग ही पर्दा डालने की कोशिशों में जूटा है. आज हम आपको ताजमहल में दफन ऐसे रहस्यों के बारे में बतायेंगे जिनका शायद ही किसी को पता होगा.

दरअसल ताजमहल के दरवाजों में कई रहस्य दफन हैं, और निश्चित रूप से जिस प्रकार प्रोफ़ेसर पुरुषोतम नाथ ओके ने अपने ताजमहल को शिव मन्दिर होने की बात कही है, ये बात कहीं न कहीं सही भी है और ये बात लोगों के सामने आनी भी चाहिए.

बता दें कि जिन रास्तों से मुगल शाहजांह किले से ताजमहल पहुंचते थे, उन दरवाजों को ईंटों से बंद कर दिया गया है. 1980 के दशक तक यहाँ लकड़ी का दरवाजा हुआ करता था और यहाँ यमुना से 18 फीट तक सिल्ट जमा हो चुकी है.

जानने के लिए देखें नीचे दी गयी वीडियो:-

लेकिन जब ताजमहल को लेकर एक बार फिर से बड़ा विवाद छिड़ गया है तो क्या ये सही नहीं है इसके बन्द तहखानों को खोल दिया जाए ताकि देश के सामने सब सच आ जाए , ऐसा क्या राज उन तहखानों में है जिसे रहस्य बनाकर रखा जा रहा है , और क्यूँ ? इसमें किसको फ़ायदा हो रहा है ?

आज भाजपा नेता विनय कटियार ने भी बयान दिया है की ताजमहल शिव मंदिर था जिसको तोड़ दिया गया और उसके ऊपर मक़बरा बना दिया गया था।